भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Metallurgy (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

< previous1234567Next >

Facing sand

फलक बालू
देखिए– Sand के अंतर्गत

Fahralloy

फारैलॉय
Fe-Cr-Ni-Al के ऊष्मारोधी लोह मिश्रातु वर्ग के लिए प्रयुक्त व्यापारिक नाम।

Fahring’s metal

फारिंग धातु
एक मिश्रातु जिसमें 90% वंग और 10% तांबा होता है। कम घर्षण प्रतिरोध के कारण इसका उपयोग बेयरिंगों में किया जाता है। इसे फेरी धातु भी कहते हैं।

Falconbridge process

फाल्कनब्रिज प्रक्रम
निकैल और ताम्र युक्त अयस्कों से निकैल प्राप्त करने का प्रक्रम उच्च धातु मैट प्राप्त करने के लिए अयस्क को प्रगलित किया जाता है और फिर उसे संदलित कर भर्जित किया जाता है ताकि अधिकांश गंधक निकल जाए। तत्पश्चात तांबे को पृथक करने के लिए अम्ल-विलयन के साथ प्रक्षोमन किया जाता है और फिर छान लिया जाता है। तांबा प्राप्त करने के लिए निस्यंद को विद्युत अपघट्य को टैंकों में भेज देते हैं। निकैलयुक्त निस्यंद-केक को गलाकर ऐनोडों के रूप में ढाल लिया जाता है और फिर उनका विद्युत अपघटन द्वारा परिष्करण किया जाता है।

Falling weight test

पाती भार परीक्षण
संघट्ट सामर्थ्य ज्ञात करने का एक सरल परीक्षण। इसमें परीक्ष्य वस्तु पर निर्दिष्ट ऊँचाई से निश्चित भार की वस्तु को गिराया जाता है। यह परीक्षण प्रायः रेलों, धुरियों, टायरों आदि पर किया जाता है जिनमें बिना विभंग हुए अधिकतम विक्षेप की आवश्यकता होती है।

Fanning

मंद धमन
अल्प वायु में धमन भट्टी को चालू रखने की एक विधि। इस अवधि में ईंधन की खपत और उत्पादन बहुत कम होता है। धमन भट्टी को इस अवस्था में काफी समय तक रखा जा सकता है और आवश्यकता होने पर भट्टी को पुनः सामान्य उत्पादन के लिए शीघ्र तैयार किया जा सकता है। इस अवधि में न तो घान डाला जाता है और न भट्टी से धातु या धातुमल निकाला जाता है।

Fan steel process

फैन इस्पात प्रक्रम
टंगस्टन उत्पादन का एक प्रक्रम। इसमें लगभग 800°C ताप पर बुल्फ्रैमाइट को धोने के सोडे के साथ गरम किया जाता है। उत्पाद को निक्षालित कर सोडियम टंगस्टेट विलयन को छान लेते हैं। इसका कैल्सियम क्लोराइड के साथ उपचार करने से कैल्सियम टंगस्टेट का अवक्षेप प्राप्त होता है। इसे हाइड्रोक्लोरिक अम्ल के साथ उबालने से टंगस्टिक अम्ल प्राप्त होता है। इसे अमोनियम पैरा-टंगस्टेट में परिवर्तित कर दिया जाता है और नाइट्रिक अम्ल मिलाकर अपेक्षाकृत शुद्ध टंगस्टिक अम्ल प्राप्त होता है। टंगस्टिक अम्ल को ऑक्साइड में परिवर्तित कर देते हैं और ऑक्साइड को हाइड्रोजन की उपस्थिति में उच्च ताप पर गरम करने से धातु प्राप्त होती है।

Fatigue

श्रांति
बार-बार या परिवर्ती प्रतिबलों के प्रभाव से किसी धातु अथवा मिश्रातु के यांत्रिक गुणधर्मों में होने वाला ह्रास। इस परिघटना से धातु में विभंग उत्पन्न हो जाता है जिसका अधिकतम मान उसके तनन-सामर्थ्य से कम होता है। श्रांति-विभंग, छोटी दरारों से आरंभ होते हैं प्रतिबल के कारण बढ़ते जाते हैं।

Fatigue limit

श्रान्ति सीमा
वह अधिकतम प्रतिबल जिसके नीचे किसी पदार्थ का विभंग नहीं होता चाहे उस पर कितनी ही बार प्रतिबल प्रयुक्त किया जाए। श्रांति परीक्षणों से ज्ञात हुआ है कि किसी धातु की सहायता अर्थात् टूटने से पहले सह्य प्रतिबलों की मात्रा, अधिकतम प्रतिबल पर नहीं बल्कि प्रयुक्त प्रतिबल के परास पर निर्भर करती है। इसे सहन सीमा भी कहते हैं।

Fatigue range

श्रांति परास
प्रतिबल की अधिकतम परास जिसे कोई धातु अनिश्चित समय तक सहन कर सकता है। जब तनन का अधिकतम प्रतिबल, संपीडन के अधिकतम प्रतिबल के बराबर होता है तो श्रांति-सीमा श्रांति-परास दुगुना होता है। श्रांति अवस्थाओं की व्याख्या करने के लिए माध्य प्रतिबल अर्थात् अर्ध-परास का उल्लेख करना आवश्यक है।

Fatigue test

श्रांति परीक्षण
देखिए– Mechanical test के अंतर्गत

Feeder

प्रभरक
किसी साँचे का वाहक अथवा पूरक कुंडिका जो संचक के पिंडन के फलस्वरूप होने वाले सकुंचन की प्रतिपूर्ति करने के लिए साँचे में गलित धातु की पूर्ति करती है।

Feed hopper

प्रभरण हॉपर
धान को संग्रह करने के लिए प्रयुक्त एक पात्र। इस पात्र में धान को आवश्यकतानुसार नियंत्रित दर पर अन्य प्रक्रियाओं के लिए निहिलता जाता है।

Feeding head

प्रभरण शीर्ष
संधानशाला में एक बहुत बड़ी पूरक कुंडिका जिसमें पर्याप्त मात्रा में धातु उपस्थित रहता है। जब पिंडन के फलस्वरूप संचक का धातु सिकुड़ता है तो यह धातु, भरक का काम करता है। इससे संचक में रिक्तियाँ उत्पन्न नहीं हो पाती है।

Fernihrome

फर्नीक्रोम
एक लोह मिश्रातु जिसमें 37% लोहा, 30% निकैल, 8% क्रोमियक और 25% कोबाल्ट होता है। इसका तापीय, प्रसार कम होता है तथा इसका उपयोग विद्युत घटकों में सीलों के लिए होता है।

Fernico

फर्निकों
एक लोह मिश्रातु जिसमें 54% लोहा, 28% निकैल और 18% कोबाल्ट होता है। इसके गुणधर्म और उपयोग फर्नीक्रोम के समान होते हैं।

Ferrimagnetism

फेरी चुंबकत्व
देखिए– Magnetism के अंतर्गत

Ferrite

फैराइट
लोहे में कार्बन के ठोस विलयन को फैराइट कहते हैं। लोहे के ऐल्फा, बीटा, गामा और डेल्टा चार विभिन्न अपररूप होते हैं, अतः फैराइट भी तदनुसार चार प्रकार के होते हैं।
ऐल्फा फैराइट (a–ferrite)– ऐल्फा फैराइट, काय केंद्रित धन लोहे में कार्बन का ठोस विलयन होता है। यह 910°C तक स्थायी और 768°C तक चुंबकीय होता है। 723°C पर कार्बन की अधिकतम विलेयता 0.025% होती हैं। 768°C से ऊपर और 910°C से नीचे यह अचुंबकीय होता है और बीटा-फैराइट (β)–ferrite) कहलाता है।
गामा फैराइट (ϒ-ferrite) अथवा आस्टेनाइट– यह फलक केंद्रित धन लोहे में कार्बन का ठोस विलयन होता है। यह 910°C –1401°C के बीच स्थायी होता है। इसमें 1130°C पर कार्बन की अधिकतम विलेयता 2.06% होती है।
डेल्टा फैराइट (ϑ -ferrite)– यह काय केंद्रित धन लोहे में कार्बन का ठोस विलयन होता है। यह 1401°C–1539°C के बीच स्थायी होता है इसका गलनांक 1539°C है। इसमें 1498°C पर कार्बन की अधिकतम विलेयता 8.1% होती है।

Ferrite band

फैराइट पट्ट
जिस दिशा में कार्य किया जा रहा हो उसी दिशा में बनने वाली मुक्त फैराइट की समांतर पट्टियाँ। कभी कभी इन्हें फैराइट-धारियाँ (Ferrite streaks) भी कहते हैं।

Ferrite formation

फैराइट संभवन
जिंक सल्फाइड सांद्रों अथवा अयस्कों के भर्जन के समय जिंक फैराइट का बनना। जल धातुकर्मिक द्वारा जिंक सल्फाइड यशद के निष्कर्षण में भर्जन के समय फैराइट का बनना वांछनीय नहीं है क्योंकि सामान्य ताप पर तनु सल्फ्यूरिक अम्ल के साथ निक्षालन द्वारा जिंक फैराइट से यशद प्राप्त नहीं किया जा सकता है।
यदि निक्षालन के लिए गरम सांद्र सल्फयूरिक अम्ल का उपयोग किया जाए तो जिंक फैराइट के अपघटन से यशद पुनः प्राप्त हो जाता है किंतु फेरिक हाइड्रॉक्साइड के अवक्षेप के नीचे बैठने के कारण विलयन से लोहे को पृथक करना कठिन होता है।
< previous1234567Next >

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App