भारतीय भाषाओं द्वारा ज्ञान

Knowledge through Indian Languages

Dictionary

Definitional Dictionary of Metallurgy (English-Hindi) (CSTT)

Commission for Scientific and Technical Terminology (CSTT)

A B C D E F G H I J K L M N O P Q R S T U V W X Y Z

< previous123456Next >

Tabling

मंचन
अयस्कों के सांद्रण की एक विधि, जिसमें खनिजों को जल में विक्षोभित कर स्तरित किया जाता है। इसमें मंच, क्षैतिज में अनुप्रस्थ (चौड़ाई) दिशा में कुछ झुके होते हैं और इनका कुछ भाग झिरीदार और कुछ चिकना होता है। इन्हें लंबाई में तेजी से आगे और पीछे की ओर असमभिततः हिलाया जाता है। मंच के ऊपर रखा अयस्क और जल मिश्रण अनुप्रस्थ दिशा में एक छोर की ओर चलता जाता है। इस विधि में अधिक धनत्व वाले और सूक्ष्म कण लंबाई की दिशा में और कम घनत्व वाले और बड़े कण चौड़ाई की दिशा में गतिशील होते हैं।

Tagging

टैगन
किसी छड़ अथवा नलिका के सिरे को शुंडाकार या नुकीला बनाना ताकि उसे कर्षण रूपदा से निकाला जा सके।

Tail point

पुच्छ बिंदु
संचन में, प्रयुक्त क्रोड पर विद्यमान एक प्रकार का प्रक्षेप। इसमें संचक-संधि के नीचे एक छिद्र किया जाता है। इसे D– प्रिंट भी कहते हैं।

Tailings

पुच्छन, पछोड़न
अयस्क-प्रसाधन की विभिन्न प्रक्रियाओं का उद्देश्य, अवशेषांश की मात्रा कम करना है और मूलांश की मात्रा बढ़ाना है। इस प्रकार एक अथवा एक से अधिक सांद्र प्राप्त होते हैं और अवशिष्ट में बहुत कम खनिज बचा रहता है जिसे फेंक दिया जाता है। इसे पछोड़न कहते हैं।

Tale

टैल्क
मैग्नीशियम का जलयोजित सिलिकेट 3Mg(), 4SiO₂ H₂O। यह संहिता रूप में पाया जाता है जिसकी शल्कित संरचना होती है। अतः यह लचीली प्लेटों में विपाटित हो जाता है। स्टिएटाइट अथवा सेलखड़ी इसका संहति रूप है। इसकी विभिन्न किस्मों का उपयोग अलंकरण पात्रों को बनाने में होता है। कठोरता 1. आ0 ध0 2.7-2.8।

Talmi gold

टाल्मी स्वर्ण
एक ताम्र मिश्रातु जिसमें 86-90 प्रतिशत तांबा, 9–12 प्रतिशत यशद, 0–1 प्रतिशत वंग तथा वंग के स्थान पर 0.3 प्रतिशत तक सोना होता है। यह चमकीला और संक्षारणरोधी होता है। इसका उपयोग सजावट की वस्तुओं को बनाने में होता है।

Tandem furnaces

अनुक्रमिक भट्टी
एक विशिष्ट क्रम में व्यवस्थित भट्टियाँ।

Tandem metal

टेंडम मेटल
कम गलनांक वाला एक सीस-मिश्रातु जिसमें 6 प्रतिशत वंग, 1.7 प्रतिशत ऐन्टिमनी और शेष सीसा होता है। इसका उपयोग बेयरिंगों में किया जाता है।

Tandem mill

अनुक्रमिक मिल
एक लाइन में स्थित बेलन-स्टैंडों की एक श्रेणी जो एक यूनिट की भाँति काम करते हैं। इन बेलनों में एक नियत बेल्लन-अंतराल होता है और प्रत्येक बेलन पहले सेट की अपेक्षा अधिक तेज घूमता है ताकि बढ़ी हुई लंबाई की पूर्ति की जा सके। इस मिल का उपयोग, तप्त और अतप्त दोनों प्रकार की बेल्लन मिलों में होता है।

Taper sectioning

शुंड परिच्छेदन
परिष्कृत धातु चित्रण तकनीक जिसका उपयोग धातुओं के पृष्ठ की समोच्च रेखाओं अथवा संरचनाओं के परीक्षण के लिए किया जाता है। इसमें परीक्ष्य भाग को पृष्ठ की अपेक्षा तिरछा काटा जाता है जिससे शुंडाकार भाग प्राप्त होता है जब कि पृष्ठीय समोच्च रेखा का ऊर्ध्वाधर अवयव, क्षेतिज की अपेक्षा पर्याप्त अवर्तित होता है।

Tap hole

निकास छिद्र
भट्टी का वह द्वार जिसका प्रयोग गलित धात अथवा धातुमल के निष्कासन में होता है।

Tapping

निकासन
निकास छिद्र खोलकर गलन-भट्टी से गलित धातु को निकालना। गलित धातु लैडल में इकट्ठा की जाती है।

Tarnishing

मलिनन
वायुमंडल में उद्भासित धातुओं पर ऑक्साइड अथवा सल्फाइड की पतली परत के बनने से पृष्ठ का विवर्णित होना।

Tea lead

टी सीसा
सीसा जिसमें 2 प्रतिशत वंग मिला होता है। यह शुद्ध सीसे से किंचित कठोर होता है। इसका उपयोग चाय पेटी के आस्तरण में तथा पन्नी के रूप में किया जाता है।

Teaming

अवपातन
लैडल से गलित-धातु को पिंड-साँचों में डालना।

Telcoseal

टेल्कोसील
एक फेरस मिश्रातु जिसमें 54 प्रतिशत लोहा, 29 प्रतिशत निकैल और 17 प्रतिशत कोबाल्ट होता है। इसका तापीय प्रसार गुणांक कम होता है। इसका उपयोग धातु-काँच सील, तापायनिक वाल्बों, एक्सकिरण नलियों, कैथोड किरण नलियों आदि में होता है।

Temper

टैंपर, पायन
1. पायन करने की प्रक्रिया।
2. शमन और पायन करने के बाद इस्पात में शेष कठोरता की मात्रा।
3. अतप्त बेल्लित धातु पट्टी में कठोरता की मात्रा जो ऊष्मा उपचार और/अथवा अतप्त कर्मण द्वारा नियंत्रित होती हैं।
4. बालू में नमी की मात्रा, जिस पर अधिकतम भौतिक परीक्षण मान प्राप्त होना है।
5.संचन गुणधर्मों को उत्पन्न करने के उद्देश्य से बालू मे पर्याप्त पानी मिलाना।

Temper brittleness

पायन भंगुरता, टैंपर भंगुरता
निकैल-क्रोम इस्पात-आदि कुछ इस्पातों को निचले क्रांतिक ताप से नीचे निश्चित ताप-परास पर ठंडा किए जाने से उत्पन्न भंगुरता। यह ताप-परास 600°C से 300°C तक होता है। यह भंगुरता कार्बाइडों के अवक्षेपण के फलस्वरूप कण-सीमा के दुर्बल पड़ने के कारण उत्पन्न होती है। 0.2–0.3 प्रतिशत मॉलिब्डेनम मिलाकर इस प्रभाव को समाप्त किया जा सकता है जिसका स्थायीकारी प्रभाव पड़ता है।

Temper carbon

पायन कार्बन टैंपर कार्बन
लोह-कार्बन मिस्रातुओं के ठोस विलयन से अवषेपित मुक्त ग्रेफाइटी कार्बन।

Temper colour

पायन वर्ण टैंपर वर्ण
कार्बन इस्पात तथा स्टेनलेस इस्पात को गरम करने पर बनने वाली ऑक्साइड परत का रंग। कठोरित औजारी इस्पात के पायन के समय उत्पन्न रंग से ताप का अनुमान लगाया जा सकता है। ताप बढ़ने के साथ रंग बदलता जाता है। साधारण कार्बन इस्पात और स्टेनलेस इस्पात के रंग और ताप इस प्रकार हैं।
——————————————————————–
रंग ताप
———————————————
साधारण स्टेनलेस
कार्वन इस्पात इस्पात
———————————————————————-
अति हल्का पीला 225°C 290°C
हल्का पीला
पुआल पीला 235°C 340°C
गहरा पुआल पीला
गहरा पीला 245°C 370°C
पीला बदामी
भूरा 258°C 390°C
लाल भूरा
पर्पल भूरा 270°C 420°C
हल्का पर्पल
पूर्ण पर्पल 280°C 450°C
गहरा पर्पल
नीला 295°C 540°C
गहरा नीला 315°C 600°C
< previous123456Next >

Search Dictionaries

Loading Results

Follow Us :   
  Download Bharatavani App
  Bharatavani Windows App